हापुड़ में संचालित समानांतर सब्जी मंडी से सरकार को राजस्व का चूना

0
1135
विज्ञापन के लिए संपर्क करें: 9654657314








हापुड़ में संचालित समानांतर सब्जी मंडी से सरकार को राजस्व का चूना

हापुड़, सीमन (ehapurnews.com): हापुड़ गढ़ रोड पर स्थित नवीन सब्जी मंडी स्थल पर अधिकृत सब्जी मंडी के समानांतर एक अवैध सब्जी मंडी के संचालन से उपभोक्ताओं व नागरिकों मे रोष व्याप्त है। अवैध सब्जी मंडी के संचालन से प्रदेश सरकार को मंडी शुल्क के रुप में मिलने वाले राजस्व से हाथ धोना पड़ रहा है और मंडी समिति कर्मचारी हाथ पर हाथ धरे बैठे है।

उत्तर प्रदेश सरकार ने चार दशक पहले नवीन सब्जी मंडी स्थल की स्थापना यह सोचकर की थी कि किसान को उसकी उपज का वाजिब दाम मिलेगा और मंडी शुल्क के रुप में सरकार को भारी राजस्व मिलेगा, परंतु दबंगों ने सरकार के दृष्टिकोण को एक तरह से निष्क्रिय कर दिया है जिसमें मंडी समिति के कर्मचारियों की मिली भगत से इंकार नहीं किया जा सकता।

कायदे-कानून के अनुसार मंडी समिति ने अनेक व्यापारियों को फल, सब्जी का कारोबार करने के लिए लाइसैंस जारी किए है और उन्हें दुकान व जगह भी आवंटित की है। आजकल हापुड़ मंडी में सभी प्रकार के फलों व सब्जी की लोकल आवकों के साथ-साथ दिल्ली से खूब आवकें हो रही है और मंडी शुल्क की चोरी भी जमकर हो रही है। मंडी शुल्क की चोरी मंडी समिति कर्मचारियों की मिली भगत से हो रही है।

मंडी शुल्क की चोरी के लिए समामंतर सब्जी मंडी चलाने वाले भी दोषी है, जो मंडी समिति व नाप-तौल विभाग की सांठगांठ से नवीन सब्जी स्थल पर जमे है। छोटा दुकानदार इन्हें मांसाखोर (उपनाम) कह कर पुकारते है। समानांतर सब्जी मंडी के संचालक (मांसाखोर) भोर होते ही मंडी की सड़क (फड़) आदि पर कब्जी कर लेते है और बिना मंडी शुल्क अदा किए लाइसैंस दार से सब्जी खरीद कर ठेले वाले सब्जी विक्रेताओं व उपभोक्ताओं को 5 किलों के हिसाब से बेचना शुरु कर देते है और कभी-कभी सब्जी लेकर आने वाले किसान का माल भी जबरन उतार कर बेचते है। समानांतर सब्जी मंडी के संचालक किसान व उपभोक्ता से मंडी शुल्क व आढ़त वसूलते है और दाने के नान सब्जी निकालते है। ये संचालक एक पैसा भी मंडी शुल्क अदा नहीं करते है।

खास बात यह भी है कि नाप-तौल विभाग के कर्मचारी चैकिंग के नाम पर वसूल तो करते फिरत है, पंरंतु एक बार भी मुंह उठाकर इस ओर नहीं देखा है। अवैध सब्जी मंडी के संचालक पुराने कांटे, बाट-तराजू का इस्तेमाल बेधड़क होकर कर रहे है और बारदाने तक को सब्जी के साथ तौल रहे है। उपभोक्ता के साथ हो रही दोहरी लुटाई पर ग्राहक स्वयं को ठगा सा महसूस कर रहा है। नागरिकों ने समानांतर सब्जी मंडी संचालकों के विरुद्ध ठोस कार्रवाई की मांग की है।

एक फोन पर कराएं सीवर सैप्टिक टैंक की मशीन द्वारा सफाई: 9219695264