निर्वाचन के स्थगन की घोषणा के बाद धरना समाप्त

0
150
विज्ञापन के लिए संपर्क करें: 9654657314



हापुड़, सीमन (ehapurnews.com): जनपद हापुड़ के बाबूगढ़ में साधन सहकारी समिति चुनाव को लेकर किसान नेताओं ने नामांकन पत्रों की जांच के बाद वैध सूची को बदलने का आरोप लगाया और जमकर हंगामा किया साथ ही प्रदर्शन किया। मामले की जानकारी मिलने पर पुलिस और पीएसी मौके पर पहुंची और किसानों को शांत कराने का प्रयास किया। किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए गुरुवार की रात करीब 11:00 बजे कृषक सेवा सहकारी समिति बाबूगढ़ हापुड़ के निर्वाचन अधिकारी सचिन ढाका ने आगामी तारीख तक के लिए निर्वाचन के स्थगन की घोषणा की। गुरुवार को किसानों के हंगामे के चलते नामांकन पत्रों के वापस होने की प्रक्रिया भी पूर्ण नहीं की जा सकी।
भारतीय किसान यूनियन टिकैट के उत्तर प्रदेश के प्रदेश उपाध्यक्ष एकलव्य सिंह सहारा ने बताया कि यह किसानों की जीत है। आपको बता दें किसानों का आरोप है कि 15 मार्च को उम्मीदवारों के नामांकन पत्रों की सूची चस्पा की गई थी। इसके बाद गुरुवार को सूची को बदला गया जिससे किसान आग बबूला हो उठे और उन्होंने मोर्चा खोल दिया जिसके बाद हापुड़ क्षेत्राधिकारी अशोक कुमार सिसोदिया, एसडीएम सुनीता सिंह मौके पर पहुंची जिन्होंने किसानों को शांत कराया लेकिन किसान नहीं माने और प्रदर्शन पर डटे रहें जिसके बाद शुक्रवार की रात करीब 11:00 बजे निर्वाचन के स्थगन की घोषणा पर किसान शांत हुए।

गंजापन व झड़ते बालों की समस्याओं के लिए सम्पर्क करें : 9719123457 पर